Latest Notificatoin

अब भारतीय महिलाएं भी बन सकेंगी अमेरिका में नर्स

भारतीय नर्सों के लिए अमेरिका में नौकरी पाना अब और आसान होगा, अमेरिका में बसे भारतीय समुदाय ने इसके लिए पहले की है. ये पहल अमेरिका के ह्युस्टन में राजपुरोहित समुदाय ने की है.

गुरुवार को अमेरिका के ह्यूस्टन में राजपुरोहित कम्युनिटी का पहला अंतर्राष्ट्रीय इंस्टीट्यूट राजपुरोहित इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्निकल एजुकेशन “RITE College” और ह्यूस्टन इंस्टीट्यूट ऑफ ग्लोबल हेल्थ”  का शुभारंभ हुआ. दोनों संस्थाओं का उद्घाटन जालोर-सिरोही के सांसद देवजी भाई पटेल के ने किया.

भारतीय नर्स को अमेरिका में ESL अंग्रेज़ी एवं NCLEX की परीक्षा पास करनी होती है जिसकी ट्रेनिंग एवं कोर्स “राइट कॉलेज” करवाएगा. भारतीय नर्स इस इंस्टिट्यूट की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन कोर्स जॉइन कर सकती हैं, इसके बाद एग्जाम की तैयारी के लिये कई मॉक टेस्ट इंस्टीट्यूट की तरफ से आयोजित किए जाएंगे, जिसके बाद ESL और NCLEX के एग्जाम को पास करना आसान होगा और अमेरिका में नर्स की नौकरी पाना आसान हो जाएगा.

भारतीय स्टूडेंट्स को हर तरह की मदद

अमेरिका के ह्यूस्टन में बसे भारतीय समुदाय के डॉ दिनेश राजपुरोहित गांव बागरा जिला जालोर के मूल निवासी हैं. डॉ. दिनेश इस इंस्टिट्यूट के प्रेसिडेंट हैं वह भारतीय समुदाय के कई संगठनों में सक्रिय रहते हैं, डॉ दिनेश राजपुरोहित ने एबीपी न्यूज़ को बताया कि कैसे ये इंस्टिट्यूट आने वाले भविष्य में भारतीय स्टूडेंट्स को हर तरह की मदद प्रदान करेगा. उनके अनुसार अमेरिका करीब 12 लाख नर्सों की कमी से जूझ रहा है, सांसद देवजी भाई पटेल ने बताया की इस कमी की भरपाई राजस्थान, गुजरात, केरला और भारत के अन्य प्रदेशों से पूर्ति हो सकती है.

SSC JE 2023 Notification Released Check At Ssc.nic.in For 1324 Junior Engineer Posts

नर्सिंग एवं मेडिकल असिस्टेंट के कोर्स ह्यूस्टन इंस्टीट्यूट ऑफ ग्लोबल हेल्थ के तहत चलाए जाएंगे. बहुत जल्दी दोनों इंस्टीट्यूट को अंतर्राष्ट्रीय स्टूडेंट्स को वीजा देने की मान्यता मिल जाएगी. अभी ये इंस्टिट्यूट टेक्सस राज्य वर्कफोर्स कमीशन से मान्यता प्राप्त हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now